होली त्यौहार पर क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए..?

होली त्यौहार पर क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए..?

होली पर क्या करें और क्या न करें –

होली रंगों से भरा हर्षोल्लास से भरा हुआ त्यौहार है. इस त्यौहार को सभी लोग बड़ी खुशी के साथ मनाते हैं. हर त्यौहार से जुड़ी हुई कुछ मान्यतायें या उनसे जुड़े कुछ रिवाज़ होते हैं जिन्हें हम पूरी श्रद्धा के साथ निभाते हैं.

प्रत्येक व्यक्ति अपने समय और विचार के हिसाब से त्यौहार को मनाता है लेकिन कुछ ऐसी भी बातें हैं जिनका ध्यान रखते हुए हम सभी को त्यौहार मनाना चाहिए.

होली

तो आइये जानते हैं कि हमें होली के त्यौहार पर क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए –

होली के दिन क्या करना चाहिए –

  • होलिका दहन पर जरूर शामिल हों और अगर उस दिन ऐसा संभव न हो पाए तो अगले दिन सूरज निकलने से पहले होलिका की तीन परिक्रमा ज़रूर करें.
  • होलिका दहन की विभूति को पुरुष मस्तक पर और महिला अपने गले में लगायें, ऐसा करने से ऐश्वर्य बढ़ता है.
  • होलीका में अलसी, मटर, चना या गेंहू की बालियाँ इनमें से जो भी आपके पास हो उसे होली की आग में जरुर भूनें और उसे प्रसाद के रूप में सभी को बाटें.

होली

  • घर के बीच में एक चौकोर टुकड़ा साफ कर के उसमें कामदेव का पूजन करें.
  • होली के अवसर पर किसी भी व्यक्ति के लिए मन में शत्रुता का भाव न रखें. यह एक भाईचारे व अपनत्व का त्यौहार है.
  • होली के दिन घर पर आने वाले मेहमानों को सौंफ और मिश्री जरुर खिलायें, इससे प्रेम भाव बढ़ता है.
  • होली के दिन अपने से बड़ों को आप उनके पैर के अंगूठों पर गुलाल लगाकर आशीर्वाद ले सकते हैं और अपने से छोटों को रंग लगाकर आशीर्वाद देना चाहिए.
  • होली के दिन अपनी जेब में काले कपड़े में पीली सरसो, लौंग, जायफल और काले तिल बांधकर रखें और जलती होली में उन्हें डाल दें. ऐसा करने से आप पर नकारात्मक शक्ति का प्रभाव समाप्त हो जाएगा.
  • होली के त्यौहार पर आपको घर की साफ सफाई अच्छी तरह से अवश्य करनी चाहिए और साथ ही भगवान विष्णु के नरसिंह अवतार की पूजा भी अवश्य करनी चाहिए. ऐसा करने से आपको भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त होगी.

ये भी पढ़ें –

 

  • होलिका दहन के अगले दिन होलिका की राख अपने घर में अवश्य लाएं और उसे अपने घर के चारों कोनों में डाल दें. ऐसा करने से आपके घर का वास्तु दोष समाप्त हो जाएगा.
  • होलिका दहन की राख को अपने लॉकर या जहां आप पैसे रखते हैं वहां अवश्य रखना चाहिए. ऐसा करने से आपको कभी भी धन की कमीं का सामना नहीं करना पड़ेगा.
  • अपने घर में गोबर से बने उपलों की होली अवश्य जलाएं. ऐसा करने से आप पर सदैव भगवान का आशीर्वाद बना रहेगा.
  • कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें होली खेलना पसंद नहीं होता लेकिन इस दिन ज्यादा नहीं तो थोड़ा बहुत रंग जरुर खेलें. इस दिन रंग खेलने से जीवन में खुशियों के रंग आते है और मनहूसियत दूर भाग जाती है. अगर आप घर से बाहर जा कर holi नहीं खेलना पसंद करते तो घर पर ही रहकर अपने परिवार के लोगों के साथ होली खेल सकते हो.
  • होली के दिन सबसे पहले भगवान को रंग चढ़ा कर ही होली खेलना शुरू करें.
  • होली के दिन घर में मीठे पकवान जरूर बनायें और पहले इसका भोग भगवान को लगाकर खुद भी खाना खायें और दूसरों को भी बांटें. ऐसा करने से आपके जीवन में भी मिठास बढ़ेगी.

अब जानते हैं कि होली के दिन क्या नहीं करना चाहिए –

  • इस अवसर पर अबीर, गुलाल तथा सुंदर रंगों के स्थान पर कुछ असभ्य तथा मंदबुद्धि लोग कीचड़, गोबर, मिट्टी, न छूटने वाला पक्का रंग आदि का प्रयोग करते हैं. इससे इस त्यौहार की पवित्रता खराब हो जाती है. ऐसा सब करके त्यौहार की खुशियां खराब न करें.

होली

  • इस अवसर पर गंदे तथा अश्लील हँसी-मजाक भी नहीं करना चाहिए.
  • होलिका दहन में गीले वृक्षों को काटकर आग की भेंट नहीं चढ़ाना चाहिए. इससे हमारी कीमती लकड़ी का नुकसान तो होता ही है, साथ ही पर्यावरण का विनाश भी होता है.
  • होली के दिन संपत्ति खरीदी या बेची नहीं जाती. हो सकता हैं कि इससे आपको परेशानी हो सकती है. इसलिए ज़मीन लेने से पहले 10 बार ज़रूर सोचें.
  • होली के दिनों में नए व्यापर और नई नौकरी शुरू नहीं करना चाहिए. हो सके तो holi के बाद नया व्यापर शुरू करें.
  • होली के त्यौहार पर किसी व्यक्ति का न तो नामकरण करना चाहिए और न ही नाम बदलना चाहिए.
  • होलिका दहन वाले दिन सफेद खाद्य पदर्थों का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि होलिका दहन के दिन नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव अधिक रहता है.

होली

  • होली के दिन अपने सिर को ढँक कर अवश्य रखें. यदि आप पुरूष हैं तो आपको इस दिन टोपी अवश्य लगानी चाहिए और यदि महिला हैं तो आपको अपनी साड़ी का पल्लू सिर पर रखना चाहिए. ऐसा माना जाता है कि होली के दिन बुरी शक्तियां सिर पर से ही शरीर में प्रवेश करती हैं.
  • सूरज ढलने के बाद holi नहीं खेलनी चाहिए और किसी व्यक्ति के ऊपर रंग भी नहीं डालना चाहिए. ऐसा करना अशुभ माना जाता है.
  • होली के दिन किसी को न तो धन देना चाहिए और न ही किसी से धन लेना चाहिए.
  • Holi के दिन मांस और शराब का उपयोग बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए. ये एक पवित्र त्यौहार है तो इसकी पवित्रता बनायें रखें.

होली मेल-मिलाप व खुशियां बांटने का त्यौहार है. वैसे तो खुशियां बाँटने के कोई नियम नहीं होते लेकिन फिर भी किसी त्यौहार या किसी रीति-रिवाज से समन्धित कुछ ऐसे तथ्य होते हैं जिन्हें अपनाने में अगर हमें कोई नुकसान न हो तो हमें उनका पालन जरूर करना चाहिए.

ये भी पढ़ें –

                 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here